VT News India
Others

श्रमिकों की संख्या बढ़ाकर रात्रि में भी कार्य कराए जाने का कमिश्नर ने दिया निर्देश

(शिवम् कुमार)
वाराणसी । कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने 186 करोड़ की लागत से निर्माणाधीन रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर के अवशेष निर्माण कार्य को युद्ध स्तर पर अभियान चलाकर प्राथमिकता पर 15 से 20 अगस्त तक पूरा कराए जाने की डेटलाइन निर्धारित की। उन्होंने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि कार्य को निर्धारित समय से पूर्ण कराए जाने के लिए रोजाना कार्य कराए जाने से संबंधित कार्य सूची तैयार किया जाए और उसी के अनुरूप प्रगति सुनिश्चित कराई जाए। केंद्रीय लोक निर्माण विभाग के अधिकारी सहित अन्य अधिकारियों को कार्यों की प्रगति की रोजाना समीक्षा किए जाने का भी निर्देश दिया। इस मौके पर मौजूद कार्यदाई संस्था के अभियंता को हिदायत देते हुए कमिश्नर ने कहा कि इसमें अब किसी भी स्तर पर शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी और निर्धारित अवधि में प्रत्येक दशा में कार्य को पूरा कराया जाए।
कमिश्नर दीपक अग्रवाल एवं जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने सोमवार को निर्माणाधीन रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर की कार्यों की स्थलीय निरीक्षण कर मौके पर ही प्रगति की समीक्षा की। अधिकारी द्वय ने बताया कि गत दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से वाराणसी के विकास एवं निर्माण परियोजनाओं के प्रगति की समीक्षा के दौरान जापान के सहयोग से निर्माणाधीन रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर के प्रगति के बाबत समीक्षा किया गया था। उन्होंने निर्माणाधीन रुद्राक्ष कन्वेंशन सेंटर के ऑडिटोरियम, मीटिंग हॉल, बेसमेंट, पोर्टिको सहित लाइटिंग एवं साउंड सिस्टम को पूरी तरह 15 से 20 अगस्त तक पूर्ण कराए जाने का निर्देश दिया। कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने कार्य को पूरा कराए जाने हेतु रात्रि में भी शिफ्ट चलाये जाने पर विशेष जोर देते हुए कहा कि श्रमिकों की अतिरिक्त व्यवस्था करके मौके पर पर्याप्त लाइटिंग एवं सुरक्षा मानकों को अपनाते हुए रात्रि में भी काम कराया जाए। ताकि निर्धारित समय अवधि में कार्य पूर्ण हो सके। कांट्रैक्टर द्वारा श्रमिकों की अनुपलब्धता बताए जाने पर कमिश्नर ने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहां की अब कार्य को समय से पूर्ण कराए जाने में कोई बहानेबाजी नहीं चलेगी।
जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने उद्घाटन के लिए आवश्यक कार्यों को 2 दिन के अंदर सूचीबद्ध कर रोजाना कराए जाने वाले कार्य के अनुसार श्रमिकों की संख्या बढ़ाकर मैटेरियल आदि की उपलब्धता सुनिश्चित कराते हुए अपेक्षित तेजी लाई जाए। इसमें किसी भी स्तर पर सफलता नहीं होनी चाहिए। उन्होंने विशेष रूप से जोड़ देते हुए कार्रवाई संस्था के अधिकारी को निर्देशित किया कि कार्य के दौरान जो भी परेशानी हो, उससे तत्काल अवगत कराएं। ताकि समस्या का समाधान प्राथमिकता पर निस्तारित किया जा सके।

Related posts

सभी रिकार्ड धराशाई, 312कोरना संक्रमित मिले,तीन की मौत

Vt News

दुनियाभर में कब तक आएगी कोरोना वैक्सीन? WHO का जवाब

Vt News

टाटा मोटर्स ने अपनी सफारी एसयूवी गाड़ी की लॉन्चिंग टाटा मोटर्स के प्रभुपार्क शोरूम कासगंज पर की गई*

Vt News