VT News India
Varanasi

डॉल्फिन संरक्षण जन जागरूकता को लेकर गंगा ग्राम सुजाबाद में रेस्क्यू

वाराणसी । गंगा प्रहरी टीम प्रदेश संयोजक दर्शन निषाद के नेतृत्व में डॉल्फिन संरक्षण जन जागरूकताअभियान को लेकर के गंगा ग्राम सुजाबाद में रेस्क्यू करते समय सम्मानित मछुआरे भाइयों के जाल में एक अजीबोगरीब मछली आ गई है जिसका माउथ सिर के नीचे है और बॉडी पर कांटे उभरे हुए हैं इस मछली का कलर भी बहुत अलग है जिसे मछुआरे भी नहीं पहचान बता पाए मछुआरे भाइयों ने बोला कि हमने अपने जीवन भर में ऐसा मछली नहीं देखा मछली का नाम क्लास और अन्य संबंधित जानकारी हेतु नमामि गंगे भारत सरकार तथा भारतीय वन्यजीव संस्थान देहरादून के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ रुचि बडोला जी, वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ ए हुसैन जी को सैंपल भेजा गया पर्यावरणविद, गंगा प्रहरी दर्शन निषाद ने बताया कि बाढ़ आपदा में सभी जनमानस को सुरक्षा देना गंगा प्रहरी का काम है इसके साथ-साथ राष्ट्रीय जलीय जीव डॉल्फिन संरक्षण कर रहे हैं वाराणसी में गंगा ग्राम ढकवा डॉल्फिन सेंटर है जहां दर्जनों डॉल्फिन अठखेलियां खेलती हुई दिखाई दे रही है इसे हम लोग शूस कहते हैं इसके दो प्रजाति होती हैं प्लाटानिस्ता गंजेटीका गंजेटीका तथा प्लाटानिस्ता गंजेटीका माइनर जो सिंधु ,गंगा, ब्रह्मपुत्र, मेघना, तथा संघु नदी में पाई जाती है 30 से 120 सेकंड में सतह पर सांस लेने आते हैं 2 से 3 वर्ष में मार्च से अक्टूबर माह के दौरान यह एक बार में एक बच्चा का जन्म देती हैं इनकी गर्भावस्था 10 माह का होता इको लोकेशन के माध्यम से यह अपनी दिशा खोजते हैं या गहरी तथा तेज प्रवाह वाले इलाकों में पाए जाते हैं इनके दैनिक एवं मौसमी प्रवास के लिए नदी धारा का अविरल होना महत्वपूर्ण है यह स्वस्थ जलीय पारिस्थितिकी तंत्र के संकेतक हैं राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन भारतीय वन्यजीव संस्थान देहरादून जैव विविधता संरक्षण तथा गंगा जीर्णोद्धार परियोजना के अंतर्गत संरक्षण किया जा रहा है इस परियोजना को माननीय प्रधानमंत्री जी 15 अगस्त को लाल किले से शुरुआत किए हैं।

Related posts

पराया तिरंगा, लिया भारत गंदगी छोड़ो अभियान का शपथ

Vt News

रुद्राक्ष भवन का कमिश्नर व जिलाधिकारी ने किया निरीक्षण, कार्य अपूर्ण मिला तो लगायी फटकार

VT News

कोरोना के कारण सावन सोमवार पर मार्कंडेय महादेव मंदिर रहा बंद

Vt News