VT News India
National

लोकसभा से कांग्रेस का वॉकआउट, कहा- हमारे सवालों से डरती है सरकार

नई दिल्ली। मानसून सत्र के दूसरा दिन भारत और चीन के बीच जारी गतिरोध पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह लोकसभा में बयान दिया। इसे लेकर कांग्रेस के सासंदों ने सदन से वॉकआउट कर दिया। कांग्रेस सांसद अधीर रंजन ने कहा है कि हमें सदन में बोलने नहीं दिया गया। उन्होंने कहा कि सरकार भारत-चीन मुद्दे पर बात करने से भाग रही है। हम दो लाइन बोलना चाहते थे सरकार चर्चा करने से क्यों भाग रही है। पूरी दुनिया चर्चा होती है हमारी सदन में चर्चा हो सकती है। हमें यह अपना अधिकार क्यों नहीं दिया जाता है। हम भी यहां के नागरिक हैं।

Parliament Monsoon Session Live Updates:

लोकसभा से कांग्रेस का वॉकआउट

जैसा की जाहिर था, कांग्रेस के सांसदों ने लोकसभा से वॉकआउट कर दिया। अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि चीन को लेकर हम चर्चा की मांग शुरू से कर रहे हैं, लेकिन हमारी बात नहीं मानी गई। सरकार चर्चा करने से क्यों भाग रहे है. पूरी दुनिया में चर्चा होती है तो हमारी सदन में चर्चा नहीं हो सकती. हमें यह अपना अधिकार क्यों नहीं दिया जाता?

चीन ने पैंगोंग में घुसने की कोशिश की

राजनाथ सिंह ने कहा कि दोनों देशों को यथास्थिति बनाए रखना चाहिए और शांति और सद्भाव सुनिश्चित करना चाहिए। चीन भी यही कहता है लेकिन तभी 29-30 अगस्त की रात्रि में फिर से चीन ने पैंगोंग में घुसने की कोशिश की लेकिन हमारे सैनिकों ने प्रयास विफल कर दिए। मैं सदन को आश्वस्त करना चाहता हूं कि सीमाएं सुरक्षित हैं और हमारे जवान मातृभूमि की रक्षा में डटे हुए हैं।

रक्षा मंत्री ने कहा कि यह सदन अवगत है चाईना, भारत की लगभग 38,000 स्क्वायर किलोमीटर भूमि का अनधिकृत कब्जा लद्दाख में किए हुए है। इसके अलावा, 1963 में एक तथाकथित बाउंडरी एग्रीमेंट के तहत, पाकिस्तान ने PoK की 5180 स्क्वायर किलोमीटर भारतीय जमीन अवैध रूप से चाईना को सौंप दी है। यह भी बताना चाहता हूँ कि अभी तक भारत-चीन के बॉर्डर इलाके में कॉमनली डेलीनिएटिड LAC नहीं है और LAC को लेकर दोनों की धारणा अलग-अलग है।

हमारे जवानों ने कड़ा संदेश दिया

अप्रैल माह से लद्दाख की सीमा पर चीन के सैनिकों और हथियारों में वृद्धि देखी गई। चीन की सेना ने हमारी पट्रोलिंग में बाधा उत्पन्न की जिसकी वजह से यह स्थित बनी। हमारे बहादुर जवानों ने चीनी सेना को भारी क्षति पहुंचाई है और सीमा की भी सुरक्षा की। हमारे जवानों ने जहां शौर्य की जरूरत थी शौर्य दिखाया और जहां शांति की जरूरत थी शांति रखी।

चीन पर रक्षामंत्री का बयान

राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लद्दाख का दौरा कर हमारे जवानों से मुलाकात की। उन्होंने यह संदेश भी दिया था वह हमारे वीर जवानों के साथ खड़े हैं। मैंने भी लद्दाख जाकर अपने यूनिट के साथ समय बिताया था। मैं आपको यह बताना चाहता हूं कि उनके साहस शौर्य और पराक्रम को महसूस भी किया था।

स्वास्थ्य मंत्री का बयान

राज्य सभा में स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बताया कि कोरोना वायरस से मृत्यु दर 1.67 प्रतिशत और रिकवरी रेट 77.65 प्रतिशत है। 10 लाख पर 55 मौतें हुई हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना से लंबी लड़ाई लड़नी है। मैं बताना चाहता हूं कि सरकार सभी जरूरी कदम उठा रही है जिससे कोरोना पर नियंत्रण पाया जा सके।

राज्यसभा में वायुयान संशोधन विधेयक पर बहस के दौरान एनसीपी सांसद प्रफुल पटेल ने कहा कि आने वाले समय में सिविल एविएशन में बहुत जरूरतें बढ़ने वाली हैं। ऐसे में एयरपोर्ट्स और एयरलाइन्स की जरूरते हैं। बहुत पहले मंजूर हुए एयरपोर्ट भी अभी अधूरे हैं।

एयर इंडिया है तो हिंदुस्तान हैः टीएमसी सांसद

वंदे भारत मिशन के तहत भारतीयों को स्वदेश लाने के लिए मैं सरकार का आभार व्यक्त करता हूं। यह सब किसने किया? एयर इंडिया ने। आप चाहें तो एयर इंडिया के ढांचे में परिवर्तन कर दें लेकिन इसे बेचिए नहीं। एयर इंडिया है तो हिंदुस्तान हैः टीएमसी सांसद दिनेश त्रिवेदी

अडानी ग्रुप को लेकर कांग्रेस का सवाल

कांग्रेस सांसद केसी वेणुगोपाल ने कहा कि अडानी ग्रुप को 6 एयरपोर्ट सौंप दिए गए हैं। एक अकेली प्राइवेट कंपनी को 6 एयरपोर्ट दे देना नियमों का उल्लंघन है। सरकार ने अपने ही मंत्रालयों और विभागों की सलाह नहीं मानी। नियमों में परिवर्तन करके अडानी ग्रुप को नीलामी में जिता दिया गया।

रवि किशन पर भड़कीं जया बच्चन

राज्यसभा में समाजवादी पार्टी की सांसद जया बच्चन ने कहा कि बॉलीवुड के लोगों को सोशल मीडिया के जरिए परेशान किया जा रहा है। जिन लोगों को इंडस्ट्री ने नाम दिया वही इसे गटर कह रहे हैं। मैं इससे असहमत हूं। सरकार को इन लोगों से कहना चाहिए कि ऐसी भाषा का इस्तेमाल न करें। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों की वजह से पूरी इंडस्ट्री को बुरा नहीं कहा जा सकता। मुझे शर्म आती है कि कल एक शख्स जो खुद उसी इंडस्ट्री से है, इसके विरोध में बोल रहा था। यह शर्मनाक है।

विरोध के बीच कई विधेयक पारित

सत्र के पहले ही दिन सरकार ने लोकसभा में पांच विधेयक पेश किए। कृषि सुधारों से जुड़े अध्यादेशों पर विपक्षी विरोध के बावजूद तीन विधेयक पेश किए गए। इसके अलावा सरकार ने लोकसभा से दो विधेयक पारित भी करा लिया। वहीं, कांग्रेस ने सदन के अंदर और बाहर कृषि क्षेत्र से जुड़े विधेयकों का भारी विरोध करते हुए कहा कि सरकार खेती-किसानी को पूंजीपतियों के हवाले कर किसानों और मंडियों को उनके रहमोकरम पर छोड़ रही है।

करीब 30 संसद सदस्य कोरोना पॉजिटिव

संसद का मानसून सत्र सोमवार को शुरू होने के पूर्व लोकसभा और राज्यसभा सचिवालय के स्टॉफ और सभी संसद सदस्यों की कोविड–19 की जांच की गई। इसमें करीब 30 संसद सदस्य और संसद के 50 से अधिक कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए गए। सूत्रों ने बताया कि जिनके सैंपल पॉजिटिव पाए गए हैं, उन्हें क्वारंटाइन में रहने और संसद भवन नहीं आने के लिए कहा गया है।

Related posts

सुप्रीम कोर्ट: दीपावली के अवसर पर पटाखों से जुड़ी क्या दी है राहत

VT News

जब रूसी सैन्य अधिकारी ने बढ़ाया हाथ तो रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने किया नमस्ते

Vt News

बडगाम मुठभेड़ में एक आतंकी ढेर, एक आतंकी गिरफ्तार

Vt News