VT News India
Others

जन्म दिन बच्चौ के साथ मना कर में बहुत खुश हूँ — आदित्य प्रकाश वर्मा (आईपीएस)रिपोर्ट कपिल दीक्षित tv न्यूज़ कासगंज *

 

*बच्चों के बीच अपना जन्मदिन मना कर मैं बहुत खुश हूं— आदित्य प्रकाश वर्मा (आईपीएस)*

*बच्चों को खिलौना मिठाई केक खिलाकर जो खुशी मिली उसको शब्दो मे बया नही किया जा सकता—- सीमा वर्मा*

*खबर फ़ास्ट——*

*आदित्य प्रकाश वर्मा ने अपने जन्मदिन के मौके पर कोरोना महामारी से बचाव हेतु सभी को किया जागरूक—-*

*कासगंज*:: इंसान कितना भी धनवान बलवान और प्रतिष्ठवान क्यो न हो जाये उसके पास दुनिया की तमाम ऐशो आराम की चीजें उलब्ध हो जाये अगर उस इंसान के अंदर इंसानियत नही है तो दुनिया की सारी दौलत बेकार है उस इंसान ने जो भी कमाया उसके मरने के बाद उसकी दौलत पर दूसरा कोई और राज करता है लेकिन अगर इंसान ने अपनी इंसानियत की वजह से लोगो के दिलो में अपनी जगह बना लिया तो उसके न रहने के बाद भी लोग उसके किये गए अच्छे कामो को हमेसा याद रखते है आज महात्मा गांधी जी हम सबके बीच नही है लेकिन उन्होंने जो भारत देश के लिए किया आज हर एक भारतीय उनके कामो को याद करता रहता है उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के रहने वाले आदित्य प्रकाश वर्मा ये वो नाम है जिसने अपने काम और इंसानियत की वजह से लाखों लोगों के दिलो में जगह बनाई है। आदित्य प्रकाश वर्मा सीएम सिटी में तीन साल तक पुलिस अधीक्षक यातायात के पद पर कार्यरत थे अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने गोराखपुर में अपनी एक अलग पहचान बनाई उनके जाने के बाद भी आज भी लोग उनके काम को याद करते रहते है आदित्य प्रकाश वर्मा इन दिनों कासगंज जिले में अपर पुलिस अधीक्षक के पद पर कार्यरत है महज कुछ ही महीनों के कार्यकाल में आदित्य प्रकाश वर्मा ने कासगंज की जनता के बीच अपनी एक अलग पहचान बना लिया है आज अपर पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रकाश वर्मा का जन्मदिन है उन्होंने अपना जन्मदिन किसी बड़े होटल या आलिशान पार्टी में न मना कर कासगंज के उलाही खेड़ा थाना सुन्नगढ़ी के बच्चों के साथ मनाया और वहा पर मौजूद तमाम बच्चों को खिलौना, केक, फ्रूटी, मिठाई और चॉकलेट दिया बच्चे भी अपने बीच आदित्य प्रकाश वर्मा को पा कर बहुत खुश हुए साथ ही वहाँ पर सैकड़ो लोग मौजूद थे सभी को कोविड19 से बचाव हेतु जागरूक किया और सभी को मास्क पहनने और हाथों को सेनिटाइज करने के लिए भी बताया अब आप सोचिए आदित्य प्रकाश वर्मा वर्तमान में कासगंज में अपर पुलिस अधीक्षक है और अभी हाल में प्रमोशन होकर आईपीएस अधिकारी हुए है इनको अपने परिवार के साथ इन बच्चों के बीच मे जन्मदिन मनाने की क्या ज़रूरत थी लेकिन इनके अंदर इंसानियत है जो पैसा बड़ी पार्टी में खर्च करते उस पैसे से इन मासूमो के साथ अपना जन्मदिन मनाया जन्मदिन के मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक कासगंज आदित्य प्रकाश वर्मा की धर्मपत्नी सीमा वर्मा भी मौजूद रही बच्चों के बीच जन्मदिन मना कर वो भी बहुत खुश थी। इसी को कहते है इंसानियत हैप्पी बर्थडे आदित्य प्रकाश वर्मा जी।

के बीच अपना जन्मदिन मना कर मैं बहुत खुश हूं

*बच्चों के बीच अपना जन्मदिन मना कर मैं बहुत खुश हूं— आदित्य प्रकाश वर्मा (आईपीएस)*

*बच्चों को खिलौना मिठाई केक खिलाकर जो खुशी मिली उसको शब्दो मे बया नही किया जा सकता—- सीमा वर्मा*

*खबर फ़ास्ट——*

*आदित्य प्रकाश वर्मा ने अपने जन्मदिन के मौके पर कोरोना महामारी से बचाव हेतु सभी को किया जागरूक—-*

*कासगंज*:: इंसान कितना भी धनवान बलवान और प्रतिष्ठवान क्यो न हो जाये उसके पास दुनिया की तमाम ऐशो आराम की चीजें उलब्ध हो जाये अगर उस इंसान के अंदर इंसानियत नही है तो दुनिया की सारी दौलत बेकार है उस इंसान ने जो भी कमाया उसके मरने के बाद उसकी दौलत पर दूसरा कोई और राज करता है लेकिन अगर इंसान ने अपनी इंसानियत की वजह से लोगो के दिलो में अपनी जगह बना लिया तो उसके न रहने के बाद भी लोग उसके किये गए अच्छे कामो को हमेसा याद रखते है आज महात्मा गांधी जी हम सबके बीच नही है लेकिन उन्होंने जो भारत देश के लिए किया आज हर एक भारतीय उनके कामो को याद करता रहता है उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के रहने वाले आदित्य प्रकाश वर्मा ये वो नाम है जिसने अपने काम और इंसानियत की वजह से लाखों लोगों के दिलो में जगह बनाई है। आदित्य प्रकाश वर्मा सीएम सिटी में तीन साल तक पुलिस अधीक्षक यातायात के पद पर कार्यरत थे अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने गोराखपुर में अपनी एक अलग पहचान बनाई उनके जाने के बाद भी आज भी लोग उनके काम को याद करते रहते है आदित्य प्रकाश वर्मा इन दिनों कासगंज जिले में अपर पुलिस अधीक्षक के पद पर कार्यरत है महज कुछ ही महीनों के कार्यकाल में आदित्य प्रकाश वर्मा ने कासगंज की जनता के बीच अपनी एक अलग पहचान बना लिया है आज अपर पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रकाश वर्मा का जन्मदिन है उन्होंने अपना जन्मदिन किसी बड़े होटल या आलिशान पार्टी में न मना कर कासगंज के उलाही खेड़ा थाना सुन्नगढ़ी के बच्चों के साथ मनाया और वहा पर मौजूद तमाम बच्चों को खिलौना, केक, फ्रूटी, मिठाई और चॉकलेट दिया बच्चे भी अपने बीच आदित्य प्रकाश वर्मा को पा कर बहुत खुश हुए साथ ही वहाँ पर सैकड़ो लोग मौजूद थे सभी को कोविड19 से बचाव हेतु जागरूक किया और सभी को मास्क पहनने और हाथों को सेनिटाइज करने के लिए भी बताया अब आप सोचिए आदित्य प्रकाश वर्मा वर्तमान में कासगंज में अपर पुलिस अधीक्षक है और अभी हाल में प्रमोशन होकर आईपीएस अधिकारी हुए है इनको अपने परिवार के साथ इन बच्चों के बीच मे जन्मदिन मनाने की क्या ज़रूरत थी लेकिन इनके अंदर इंसानियत है जो पैसा बड़ी पार्टी में खर्च करते उस पैसे से इन मासूमो के साथ अपना जन्मदिन मनाया जन्मदिन के मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक कासगंज आदित्य प्रकाश वर्मा की धर्मपत्नी सीमा वर्मा भी मौजूद रही बच्चों के बीच जन्मदिन मना कर वो भी बहुत खुश थी। इसी को कहते है इंसानियत हैप्पी बर्थडे आदित्य प्रकाश वर्मा जी।

— आदित्य प्रकाश वर्मा (आईपीएस)*

*बच्चों को खिलौना मिठाई केक खिलाकर जो खुशी मिली उसको शब्दो मे बया नही किया जा सकता—- सीमा वर्मा*

*खबर फ़ास्ट——*

*आदित्य प्रकाश वर्मा ने अपने जन्मदिन के मौके पर कोरोना महामारी से बचाव हेतु सभी को किया जागरूक—-*

*कासगंज*:: इंसान कितना भी धनवान बलवान और प्रतिष्ठवान क्यो न हो जाये उसके पास दुनिया की तमाम ऐशो आराम की चीजें उलब्ध हो जाये अगर उस इंसान के अंदर इंसानियत नही है तो दुनिया की सारी दौलत बेकार है उस इंसान ने जो भी कमाया उसके मरने के बाद उसकी दौलत पर दूसरा कोई और राज करता है लेकिन अगर इंसान ने अपनी इंसानियत की वजह से लोगो के दिलो में अपनी जगह बना लिया तो उसके न रहने के बाद भी लोग उसके किये गए अच्छे कामो को हमेसा याद रखते है आज महात्मा गांधी जी हम सबके बीच नही है लेकिन उन्होंने जो भारत देश के लिए किया आज हर एक भारतीय उनके कामो को याद करता रहता है उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के रहने वाले आदित्य प्रकाश वर्मा ये वो नाम है जिसने अपने काम और इंसानियत की वजह से लाखों लोगों के दिलो में जगह बनाई है। आदित्य प्रकाश वर्मा सीएम सिटी में तीन साल तक पुलिस अधीक्षक यातायात के पद पर कार्यरत थे अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने गोराखपुर में अपनी एक अलग पहचान बनाई उनके जाने के बाद भी आज भी लोग उनके काम को याद करते रहते है आदित्य प्रकाश वर्मा इन दिनों कासगंज जिले में अपर पुलिस अधीक्षक के पद पर कार्यरत है महज कुछ ही महीनों के कार्यकाल में आदित्य प्रकाश वर्मा ने कासगंज की जनता के बीच अपनी एक अलग पहचान बना लिया है आज अपर पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रकाश वर्मा का जन्मदिन है उन्होंने अपना जन्मदिन किसी बड़े होटल या आलिशान पार्टी में न मना कर कासगंज के उलाही खेड़ा थाना सुन्नगढ़ी के बच्चों के साथ मनाया और वहा पर मौजूद तमाम बच्चों को खिलौना, केक, फ्रूटी, मिठाई और चॉकलेट दिया बच्चे भी अपने बीच आदित्य प्रकाश वर्मा को पा कर बहुत खुश हुए साथ ही वहाँ पर सैकड़ो लोग मौजूद थे सभी को कोविड19 से बचाव हेतु जागरूक किया और सभी को मास्क पहनने और हाथों को सेनिटाइज करने के लिए भी बताया अब आप सोचिए आदित्य प्रकाश वर्मा वर्तमान में कासगंज में अपर पुलिस अधीक्षक है और अभी हाल में प्रमोशन होकर आईपीएस अधिकारी हुए है इनको अपने परिवार के साथ इन बच्चों के बीच मे जन्मदिन मनाने की क्या ज़रूरत थी लेकिन इनके अंदर इंसानियत है जो पैसा बड़ी पार्टी में खर्च करते उस पैसे से इन मासूमो के साथ अपना जन्मदिन मनाया जन्मदिन के मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक कासगंज आदित्य प्रकाश वर्मा की धर्मपत्नी सीमा वर्मा भी मौजूद रही बच्चों के बीच जन्मदिन मना कर वो भी बहुत खुश थी। इसी को कहते है इंसानियत हैप्पी बर्थडे आदित्य प्रकाश वर्मा जी।

Related posts

कासगंज ए एस पी आदित्य प्रकाश वर्मा में दिए निर्देश

Vt News

श्रमिकों की संख्या बढ़ाकर रात्रि में भी कार्य कराए जाने का कमिश्नर ने दिया निर्देश

Vt News

मोदी संग कश्मीरी नेताओं की बैठक, कांग्रेसी आचार्य ने किया स्वागत लखनऊ – रिपोर्ट, कपिल दीक्षित व्यूरोचीफ vt news जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने के करीब दो साल बाद आज पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य के आठ राजनीतिक दलों के 14 नेताओं के साथ बैठक की। यह बैठक करीब साढ़े तीन घंटे तक चली और इस दौरान कई मुद्दों पर चर्चा की गई। जम्मू कश्मीर राज्य के सभी दलों के नेताओं को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वार्ता के लिए आमंत्रित किया. पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला, गुलाम नवी आज़ाद सहित लगभग सभी नेताओं ने मुलाक़ात की. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि बैठक में हमने कांग्रेस की तरफ से सरकार के सामने 5 बड़ी मांगे सरकार के सामने रखी। पहली मांग थी कि राज्य का दर्जा जल्दी बहाल करे सरकार। उन्होंने कहा कि हमने बैठक में कश्मीरी पंडितों को घाटी में बसाने की बात भी बोली। केंद्र सरकार जल्द से जम्मू-कश्मीर में चुनाव करवाएं। बैठक में अधिकतर पार्टियों ने कहा कि 370 का मामला सुप्रीम कोर्ट में है। उन्होंने कहा कि गृह मंत्री ने कहा कि सरकार जम्मू-कश्मीर को राज्य का दर्जा देने के लिए प्रतिबद्ध है। सभी नेताओं ने पूर्ण राज्य की मांग की है। इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री से वार्ता का किसी कश्मीरी नेता अथवा पार्टी के द्वारा कोई विरोध नहीं किया गया. इस मुलाक़ात के बाद कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने भी ट्वीट कर स्वागत किया. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि राष्ट्र राजनीति से बढ़ा होता है. हालांकि कांग्रेस पार्टी के बाकी नेता इस मुद्दे पर खामोश ही नज़र आये. पीडीपी (पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी) के नेता मुजफ्फर हुसैन बेग ने कहा कि बैठक बहुत शानदार हुई। उन्होंने कहा कि 370 का मामला सु्प्रीम कोर्ट में है और अदालत ही 370 के मामले पर फैसला करेगी। मैंने धारा 370 कि कोई मांग नहीं रखी। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि 370 खत्म करने का फैसला जम्मू-कश्मीर विधानसभा के द्वारा होता तो और अच्छा होता। जम्मू-कश्मीर को राज्य का दर्जा दिलाने की मांग सभी दलों ने की। पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने पर सीधे कुछ नहीं कहा। उन्होंने कहा कि पहले परिसीमन हो। सही मायनों में अब धारा 370 हटाना कोई मुद्दा नहीं बचा जब कश्मीर के सभी नेताओं ने केंद्र के साथ बैठकर चर्चा की एवं राज्य के विकास और पूर्ण राज्य के दर्जे की मांग की.

Vt News