VT News India
National

दिल्ली-NCR में भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर 4.5 मापी गई तीव्रता

नई दिल्ली। दिल्ली-एनसीआऱ में एक बार फिर से भूकंप के झटके महसूस कि गए हैं। भूकंप के झटके दिल्ली समेत गुरुग्राम, फरीदाबाद, नोएडा और गाजियाबाद में भी महसूस किए गए हैं।वनेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी ( National Centre for Seismology) के अनुसार, इसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.5 मापी गई। भूकंप शुक्रवार शाम 7 बजकर 50 सेकेंड पर आया। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के अनुसार, गुरुग्राम के दक्षिण-पश्चिम में 63 किमी की दूरी पर 4.5 तीव्रता का भूकंप दर्ज किया गया। भूकंप के झटके पांच से छह सेकेंड तक लगे। बीते तीन महीने में यह सबसे तेज भूकंप का झटका है। जिसकी तीव्रता 4.5 रही। इससे पहले दिल्ली-एनसीआर में 3.5 की तीव्रता की भूकंप के झटके महसूस किए गए थे।

दिल्ली-एनसीआर में अप्रैल से जून तक कब-कब आए भूकंप

जून में भूकंप

  • 1 जून को 1.8 की तीव्रता का भूकंप, रोहतक में केंद्र
  • 3 जून को 3.2 की तीव्रता का भूकंप, फरीदाबाद में केंद्र
  • 8 जून 2.1 की तीव्रता का भूकंप, गुरुग्राम में केंद्र

मई में भूकंप

  • 3 मई को 3.0 की तीव्रता का भूकंप, दिल्ली में केद्र
  • 6 मई को 2.3 की तीव्रता का भूकंप, फरीदाबाद में केद्र
  • 10 मई को 3.4 की तीव्रता का भूकंप, दिल्ली में केद्र
  • 15 मई को 2.2 तीव्रता का भूकंप, दिल्ली में केद्र
  • 28 मई को 2.5 की तीव्रता का भूकंप, फरीदाबाद में केद्र
  • 29 मई को 4.5 और 2.9 तीव्रता का भूकंप, रोहतक में केद्र

अप्रैल में भूकंप

  • 12 अप्रैल .3.5 तीव्रता का भूकंप, दिल्ली में केद्र
  • 13 अप्रैल को 2.7 तीव्रता का भूकंप, दिल्ली में केद्र
  • 16 अप्रैल 2.0 तीव्रता का भूकंप, दिल्ली में केद्र

घरों से बाहर निकले लोग

मिली जानकारी के मुताबिक, दिल्ली से सटे सोनीपत में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। जबकि रेवाड़ी और नारनौल में भूकंप के झटके लगे। भूकंप महसूस होते ही लोग घरों से बाहर निकल गए। जबकि जो लोग दफ्तर में काम कर रहे वे सहम गए। हालांकि इससे किसी को कोई नुकसान नही हुआ।

भूकंप के लिहाज से दिल्ली-एनसीआर इन्‍टेंसिटी जोन-4 में आता है। ऐसे में यहां पर तेज गति का भूकंप आया तो बड़ी जानमाल की हानि का खतरा है। भूवैज्ञानिकों के मुताबिक, भूकंप के लिहाज से दिल्‍ली के साथ यूपी-हरियाणा से सटे जिले में भी बेहद संवेदनशील है। दिल्ली और इसके आसपास के इलाके को जोन-4 में रखा है। यहां 7.9 तीव्रता तक का भूकंप आ सकता है। ऐसे में बड़ा नुकसान हो सकता है।

क्यों आ रहे भूकंप के झटके

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी ((IIT) के विशेषज्ञों की मानें तो दिल्ली-एनसीआर में लगातार भूकंप के झटके आना बड़े भूकंप का संकेत हो सकता है। एक्सपर्ट का कहना है कि भूकंप के हल्के झटकों को चेतावनी के रूप में देखा जाना चाहिए।

Related posts

कोरोना ने थामी ISRO की रफ्तार, गगनयान और चंद्रयान-3 मिशन में हो सकती है देरी

Vt News

एनकाउंटर की आशंका को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर हुई थी।

Vt News

कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का 5 वें दिन आन्दोलन जारी,केंद्रीय कृषि मंत्री ने कहा कि सरकार बातचीत के लिए तैयार

VT News