VT News India
कृषि

भारतीय किसान यूनियन(भानु) व संस्कार भारती ने किसान नेता रमेश सिंह पर फर्जी धाराओं में दर्ज मुकदमे को रद्द करने की मांग को लेकर सौंपा ज्ञापन

भारतीय किसान यूनियन(भानु) व संस्कार भारती ने किसान नेता रमेश सिंह पर फर्जी धाराओं में दर्ज मुकदमे को रद्द करने की मांग को लेकर सौंपा ज्ञापन

संदिग्ध, डाक्टेड ऑडियो के आधार पर गलत धाराओं में दर्ज मुकदमे से क्षेत्रीय आम जनमानस व संगठनों में फैला आक्रोश

लालगंज/रायबरेली – आज लालगंज तहसील में भारतीय किसान यूनियन(भानु)के जिलाध्यक्ष विपेंद्र सिंह, समाजसेवी शीलू सिंह, सिद्धार्थ त्रिवेदी, मनीष त्रिवेदी, संस्कार भारती के ब्लाक अध्यक्ष योगेन्द्र प्रताप सिंह व करणी सेना प्रवक्ता धर्मेन्द्र सिंह ने कोविड19 नियमों का पालन करते हुए जिलाधिकारी को सम्बोधित एक ज्ञापन उपजिलाधिकारी लालगंज को एवं पुलिस अधीक्षक रायबरेली को सम्बोधित ज्ञापन क्षेत्राधिकारी लालगंज को सौंपा।
ज्ञापन में माँग की गई कि भाजपा किसान नेता रमेश सिंह पर मंडी समिति के लिपिक प्रेमबाबू सचान द्वारा फोन रिकार्डिंग के आडियो जो कि संदिग्ध व डाक्टेड प्रतीत होता है, के आधार पर रंगदारी व सरकारी कार्य में बाधा डालने जैसी संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है जबकि सेवानियमावली के विरुद्ध लिपिक द्वारा वायरल किये गए ऑडियो में भी इन धाराओं के अंतर्गत कोई बात नहीं, कोई आधार नहीं मिलता है।ये मंडी में व्याप्त भ्रष्टाचार व अवैध वसूली की शिकायत किसान नेता रमेश सिंह द्वारा किये जाने पर बौखलाहट में रंजिशन उनको फंसाने की कोशिश है। अतः जब ऑडियो में भी कोई साक्ष्य नहीं मिलता तो इन धाराओं को रद्द कर मुकदमा समाप्त कर भ्रष्टाचार का अंत किया जाए एवं लिपिक पर प्रदेश की लोकप्रिय योगी सरकार को बदनाम करने, सेवानियमावली का उल्लंघन करने, भ्रष्टाचार, अवैध वसूली करने व इरादतन हाई बीपी, सुगर, न्यूरो जैसी गंभीर बीमारियों का इलाज करा रहे किसान नेता को मृत्यु तुल्य कष्ट देकर उनकी जान लेने की कोशिश करने का मुकदमा दर्ज किये जाने की कृपा की जाए।

पूरे मामले को विस्तार से बताते हुए सभी ने कहाकि
भाजपा किसान नेता रमेश बहादुर सिंह पुत्र अकबाल बहादुर सिंह निवासी
-ग्राम कुम्हड़ौरा, थानाध्तहसील लालगंज जिला-रायबरेली, उ.प्र. पूरे जनपद
में लगभग 3 दशकों से संघ व भाजपा के सक्रिय व समर्पित कार्यकर्ता
हैं।जनपद में इनकी छवि एक जुझारू, जनसमस्याओं व भ्रष्टाचार के विरुद्ध
आंदोलन करने वाले जननेता की है।
सर्वविदित है कि भाजपा किसान नेता रमेश सिंह द्वारा कृषि उत्पादन मंडी
समिति लालगंज, रायबरेली में भ्रष्टाचार व अवैध वसूली की शिकायत कर बन्द
करा दिया था। जिससे मंडी में तैनात लिपिक प्रेमबाबू सचान अतिरिक्त आय
बन्द हो जाने से किसान नेता से रंजिश मानने लगा।दिनांक 21-07-20 को
रात्रि 8रू30बजे प्रेमबाबू सचान द्वारा फोन कर अभद्रता व गाली-गलौज की
जाने लगी।जिस पर हाई बीपी, सुगर व न्यूरो जैसे गंभीर रोगों की दवा करा
रहे किसान नेता रमेश सिंह ने उनको विनम्रता से मना किया कि आप फोन रखें
और मैं आपसे बात नहीं करना चाहता। किसान नेता द्वारा गाली नहीं दी गयी।
परंतु लिपिक प्रेमबाबू सचान द्वारा गलत तरीके से फोन रिकार्डिंग में किसी
की गाली गलौज एडिट कर रमेश सिंह के विरुद्ध एफआईआर संख्या- 365, धारा
-386, धारा-332, धारा-506,धारा-507 को लिखाकर किसान नेता रमेश सिंह की
छवि को धूमिल कर, भ्रष्टाचार व अवैध वसूली के खिलाफ चल रहे जनांदोलन को
दबाना चाहता है।विवादित व अधिकतर नशे मे रहने वाला लिपिक प्रेम बाबू सचान लगभग 20
वर्ष लालगंज मण्डी समिति मे तैनात रहा शिकायतन उसका स्थानान्तरण हो गया
था। वर्तमान मे माधौगंज हरदोई मे लिपिक प्रेमबाबू सचान की तैनाती है
लेकिन उसके बाद भी फिर यह जोड तोड कर वापस लालंगज मण्डी समिति को लूटने,
किसानो व्यापरियो का शोषण करने आ गया है। और तमाम शिकायतो के बाद भी जमा
हुआ है।
अतः आपसे अनुरोध है कि संदिग्ध व डाक्टेड आडियो क्लिप
जिसमें भी कहीं कोई न तो रंगदारी माँगने की बात है और न ही अन्य कोई आरोप
की पुष्टि हो रही है, के आधार पर भाजपा किसान नेता रमेश सिंह के खिलाफ
दर्ज एफआईआर को समाप्त करते हुए लिपिक प्रेम बाबू सचान पर अपनी सेवा
नियमावली का उल्लंघन कर संदिग्ध, डाक्टेड आडियो क्लिप वायरल करने, अपने
भ्रष्टाचार व अवैध वसूली से प्रदेश की लोकप्रिय योगी सरकार को बदनाम करने
व रमेश सिंह को षड्यंत्र कर साजिशन फंसाकर उनकी छवि धूमिल करने की एफआईआर
दर्ज की जाने की कृपा की जाए।

Related posts

किसान, मजदूर राष्ट्र के कर्णधार, देश की संकल्पना इनके बिना है अधूरी

Vt News

थाई नींबू की खेती से “आनन्द” में लेमनमैन, देश के किसानों को मिसाल बन दिखाई कमाई बढ़ाने की राह

Vt News