VT News India
दुर्घटना

गोमती नदी में डूबी रेखा का भी शव तीसरे दिन मिला,आज भी नही जले चूल्हे

गोमती नदी में डूबी रेखा का भी शव तीसरे दिन मिला,आज भी नही जले चूल्हे

वाराणसी-
चौबेपुर धौरहरा गांव में गुरुवार को डूबी37 वर्षीय विवाहिता रेखा राजभर का भी घटना स्थल से कुछ दूर मिला।पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
धौरहरा गांव में गुरुवार को कल्लू राजभर के पिता बद्री राजभर का नव नहाना था।पुरुषों ने घाट नहा कर पानी देकर लौट गये।तभी महिलाएं भी घाट नहाने पहुंच गयी।लगभग आठ बजे सभी स्नान कर पानी देना शुरू किया।लगभग आधे से अधिक महिलाओं ने पानी दे चुकी थी तभी अचानक तीन बच्चीया डूबने लगी तीनो को बचाने में सपना 20 वर्ष व रेखा 37 वर्ष भी डूब गयी।गोताखोरों व एनडीआरएफ की दो टीम खोजबीन कर प्रयास किया पर दोनों शव नही मिले।शुक्रवार को सपना 20 वर्ष का शव सैदपुर गाजीपुर में मिला।शनिवार को विवाहिता रेखा 37 वर्ष का घटना स्थल से दो किलोमीटर दूर धौरहरा गांव में ही नदी किनारे दिखायी दिया।परिजन रेखा का शव के लिए जमनिया गाजीपुर तक घाट के किनारे किनारे खोज रहे थे।तभी प्रायः साढ़े 9बजे कुछ लोगों ने शव देखकर परिजनों को बताया।फिर खोजबीन को निकले लोगो को सूचना देकर बुलाया गया।शव को पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।घटना की सूचना मिलने पर यहां के सांसद व केंद्रीय मंत्री डा. महेंद्र नाथ पाण्डेय ने अपने अजगरा विधानसभा के विद्युत प्रतिनिधि जय प्रकाश पाण्डेय को भेजकर अपना दु:खद संदेश भेजा ।तथा मोबाइल पर ही केन्द्रीय मंत्री डा. पाण्डेय ने परिजनों को ढांढस बंधाया एवं कहा कि इस अपार दुख की घड़ी में हम लोग आप के साथ है।सरकार की तरफ से मिलने वाली सहायता राशि अवश्य दिलवाऊंगा।तथा जान लोगों की जान बचाने वाली विवाहिता रेखा राजभर जो अपने खुद ही डुब गई।उस महिला के परिवार के मदद के लिए प्रधान मंत्री को अवगत कराऊंगा।

Related posts

करंट लगने से महिला की मौत

Vt News