New Member | Have an account?
 
 
 
 
     
 
 
  » राज्य » उत्तर प्रदेश » गोरखपुर
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा- राजीव गांधी लाचार पीएम थे, नरेंद्र मोदी नहीं हैं
Go Back | ASHOKSRIVASTAV , Mar 05, 2019 02:16 PM
0 Comments


Visits : 16    0 times    0 times   

News Image
गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भ्रष्टाचार के मुद्दे पर आज कांग्रेस को उनकी ही बातों से घेर लिया। प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का लोकार्पण करने के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भ्रष्टाचार के मामले में पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी की बात को ही आधार बनाया। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी कहते थे कि हम केंद्र से एक रुपया भेजते हैं तो गरीब के पास सिर्फ दस पैसा पहुंचता है। दलाल और बिचौलिए बाकी पैसे खा जाते हैं। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि दलाल, बिचौलिया व भ्रष्टाचारियों पर नकेल कसने में स्वर्गीय राजीव गांधी भले ही लाचार थे, लेकिन आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ ऐसा कुछ भी नहीं है। वह भ्रष्टाचार का दमन करने में लगे हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने देशभर में जनधन खाते खुलवाए, जिसका नतीजा है कि आज हर गरीब के खाते में वह पूरी रकम आ रही है, जितनी केंद्र या राज्य सरकार उसे देना चाहती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि विकास के वह सभी कार्य मुमकिन हो रहे हैं जिसे सपा बसपा और कांग्रेस नामुमकिन कहती थी क्योंकि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं। आज सर्किट हाउस के एनेक्सी भवन से प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का लोकार्पण करते हुए मुख्यमंत्री ने केंद्र और प्रदेश सरकार की तरफ से हो रहे विकास कार्यों को सिलसिलेवार गिनाया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना और राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के तहत पांच लाभार्थियों को परिचय पत्र दिया।
कोई भी अयोग्य नहीं, प्रतिभा पहचानने को बेहतर योजक की जरूरत

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने युवाओं का हौसला बढ़ाया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज अपनी कर्मभूमि गोरखपुर में कौशल विकास प्रशिक्षण केंद्र का उद्घाटन करने के बाद युवाओं को संबोधित किया।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस अवसर पर युवाओं से अपील की है कि वह रोजमर्रा के कार्यों के दौरान खुद की क्षमता को पहचाने और फिर उसे इस तरह से उभारें कि वह रोजगार का माध्यम बन जाए। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की कौशल विकास योजना उनकी क्षमता को विकसित करने के लिए तत्पर है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोई भी व्यक्ति अयोग्य नहीं होता। जरूरत इस बात की है कि उसकी योग्यता को विकसित करने के लिए एक बेहतर योजक चाहिए। खासकर भारत का युवा तो दुनिया का हर वह कार्य करने में सक्षम है, जिसे सामान्य व्यक्ति चुनौती मानता है। इसी को ध्यान में रखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2014 में कौशल विकास योजना लेकर आए।उन्होंने कहा कि इसके लिए कॉल सेंटर की तर्ज पर एक केंद्र स्थापित किया जा रहा है जहां पर 500 से अधिक लोग तीन शिफ्टों में कार्य करेंगे। राज्य सरकार उत्तर प्रदेश के अंदर विभिन्न कार्यक्रमों एवं कार्यों को जांचने तथा सुशासन की प्रतिबद्धता को दोहराने के लिए 'सीएम हेल्प लाइन' प्रारम्भ करने जा रही है। मुख्यमंत्री ने तारामंडल क्षेत्र के सिद्धार्थपुरम में महिंद्रा एजुकेशनल प्राइवेट लिमिटेड के कौशल विकास प्रशिक्षण केंद्र का उद्घाटन किया। 

  REPORTER ASHOKSRIVASTAV
Previous News
Visits : 16    0 times    0 times   
(1) Photograph found Click here to view            | View News Gallery


Member Comments    



 
No Comments!

   
ADVERTISEMENT

Member Poll
क्या आप केंद्र सरकार की कार्यप्रणाली से संतुष्ट है ? ?
     हाँ
     नहीं
     बिल्कुल नहीं
 



 
 
Latest News
IPL 2019: डेविड वार्नर ने पहले ही
जौनपुर में बारहसिंगा के सींग मिलने के
पान की खेती बनारस के करीबी जिलों
भारतीय भारतीय वैश्य चेतना महासभा ने मनाई
WhatsApp इन यूजर्स के अकाउंट को कर
अखिलेश यादव आजमगढ़ व आजम खां रामपुर
 
 
Most Visited
यूनियन बैंक के महाप्रबंधक द्वारा बड़े मंगल
(3559 Views )
UPSSSC में इंटरव्यू रद्द किए जाने पर
(3203 Views )
राजकीय विद्यालयों में 1548 कम्प्यूटर शिक्षकों को
(3154 Views )
गठबंधन के बावजूद लखनऊ सेंट्रल सीट को
(3147 Views )
समाजवादी पार्टी ने जारी की 325 प्रत्याशियों
(3102 Views )
सपा ने 23 और प्रत्याशियों की घोषणा
(3067 Views )