New Member | Have an account?
 
 
 
 
     
 
 
  » देश
भाजपा के काफिले पर नक्‍सली हमला, विधायक की मौत, चार जवान शहीद
Go Back | ASHOKSRIVASTAV , Apr 09, 2019 06:59 PM
0 Comments


Visits : 4    0 times    0 times   

News Image
दंतेवाड़ा। छत्तीसगढ़ के अतिसंवेदनशील नक्सल प्रभावित जिले दंतेवाड़ा में मंगलवार की शाम नक्सलियों ने एक बड़ी घटना को अंजाम दिया। नक्सलियों द्वारा लगाए गए आईईडी की चपेट में आने से हमले में भाजपा विधायक भीमा मंडावी की मौत हो गई। उनके साथ ही घटना में सुरक्षा में तैनात चार जवान भी शहीद हो गए। इस घटना के बाद छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने हाइ लेवल मीटिंग बुलाई है।स्थानीय सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक भीमा मंडावी कुआकोण्डा ब्लॉक के श्यामगिरी गांव में चुनावी सभा को संबोधित करने के बाद वापस नकुलनार लौट रहे थे, तभी सड़क पर नक्सलियों द्वारा लगाए गए लैंडमाइन्‍स (आइडी) के ऊपर से उनका बुलेट प्रूफ वाहन गुजरा और विस्‍फोट हो गया।विस्‍फोट में वाहन पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। घटना मंगलवार शाम करीब चार बजे की बताई जा रही है। इस हमले में विधायक भीमा मंडावी की मौके पर ही मौत हो गई।वाहन में विधायक की सुरक्षा में तैनात चार जवान भी सवार थे, जो इस घटना में शहीद हो गए। श्यामगिरी में आज वार्षिक मड़ई मेले का भी आयोजन किया गया था। इसी मेले के दौरान आयोजित जनसभा को संबोधित करने वे जिला मुख्यालय से करीब 70 किलोमीटर दूर स्थित इस गांव में गए थे। बता दें कि पांच साल पहले ठीक इसी जगह पर नक्सलियों ने हमला किया था, जिसमें एक जवान शहीद हुआ था।भीमा मंडावी साल 2008 में दंतेवाड़ा सीट से पहली बार विधायक बने थे। साल 2013 के चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी देवती कर्मा के हाथों हार हुई थी। साल 2018 में वे वापस चुनाव जीतकर आए और बस्तर संभाग से भाजपा के इकलौते विधायक थे। विधानसभा में उप नेता प्रतिपक्ष भी और भाजपा के आदिवासी युवा मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भी थे। 
कौन थे भीमा मंडावी
भीमा मंडावी विधानसभा में भाजपा विधायक दल के उपनेता हैं। मंडावी दूसरी बार विधायक चुने गए हैं। दंतेवाड़ा जिले के गदापाल निवासी मंडावी 2008 में विधायक चुने गए थे। 2013 का विधानसभा चुनाव वे देवती कर्मा से हार गए थे, लेकिन 2018 में पार्टी ने फिर से उन्हें टिकट दिया।इस बार उन्होंने देवती कर्मा को 2071 वोटों से मात दी थी। भीमा को कुल 37 हजार 744 वोट मिले थे, जबकि देवती को 35 हजार 673 वोट। 2002 में स्नातक की डिग्री हासिल करने वाले भीमा पेशे से किसान थे। भीमा के परिवार में माता- पिता और पत्नी ओजस्वी मंडावी के अलावा एक पुत्र खिलेंद्र मंडावी है।
  REPORTER ASHOKSRIVASTAV
Previous News Next News
Visits : 4    0 times    0 times   
(1) Photograph found Click here to view            | View News Gallery


Member Comments    



 
No Comments!

   
ADVERTISEMENT

Member Poll
क्या आप केंद्र सरकार की कार्यप्रणाली से संतुष्ट है ? ?
     हाँ
     नहीं
     बिल्कुल नहीं
 



 
 
Latest News
ट्रक पर लदे 12 गोवंश सहित तीन
डुबकिया पारेषण केंद्र पर लगा 500 एमबीए
विवेक सिंह हत्याकांड में दो मुख्य आरोपी
टूटी पटरी से गुजर गई पैसेंजर, चरवाहाें
भाजपा में शामिल होते ही साध्वी प्रज्ञा
सलमान के Bharat Ki Jawani लुक पर
 
 
Most Visited
यूनियन बैंक के महाप्रबंधक द्वारा बड़े मंगल
(6094 Views )
UPSSSC में इंटरव्यू रद्द किए जाने पर
(5725 Views )
राजकीय विद्यालयों में 1548 कम्प्यूटर शिक्षकों को
(5716 Views )
गठबंधन के बावजूद लखनऊ सेंट्रल सीट को
(5673 Views )
समाजवादी पार्टी ने जारी की 325 प्रत्याशियों
(5626 Views )
सपा ने 23 और प्रत्याशियों की घोषणा
(5593 Views )