VT News India
Uttar Pradesh अयोध्या

गौशाला का निर्माणाधीन कार्य अधर में लटका, किसान बदहाल अधिकारी मालामाल

आवारा पशुओं से किसान परेशान अधिकारी मस्त

मवई विकास खंड गौशाला का निर्माणाधीन दृश्य विकासखंड अमानीगंज कोटिया गौशाला का दृश्य

अमानीगंज, अयोध्या। विकासखंड मवई तथा ग्राम पंचायत सैमसी मजरे कोरैया का पुरवा में विकास खंड अमानीगंज की सीमा पर बन रहा है गौशाला का निर्माण धीन कार्य दो साल से अधर में लटका हुआ है जिले के किसी प्रशासनिक अधिकारी के कानों में जूं नहीं रेंग रहा है सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना को खंड विकास अधिकारी तथा ग्राम पंचायत अधिकारी शासन की खुलेआम धज्जियां उड़ा रहे हैं सरकार के निर्देशानुसार गौशाला निर्माणाधीन के लिए स्वीकृति के पश्चात किसानों की फसल को बचाने हेत सरकार ने गौशाला निर्माण के लिए भी 1500000लाख रुपए की लगभग स्वीकृति की है जो आज लगभग 2 साल से बन रहा है लेकिन आज तक बनकर कंप्लीट नहीं हुआ और जे सी बी मशीन द्वारा खुदाई की गई मिट्टी तालाब की अधूरी पड़ी हुई है और तालाब भी अधूरा निर्मित है वहां की जनता ने बताया कि जिले के प्रशासनिक अधिकारियों से कई बार शिकायत की गई फिर भी कोई आज तक कोई कार्यवाही नहीं हुई और गौशाला का निर्माण कार्य अधूरा पड़ा हुआ है जब इस संबंध में ग्राम पंचायत अधिकारी मुकेश मौर्या से संपर्क किया गया तो उन्होंने बताया कि गौशाला निर्माण कार्य के लिए 1500000 रुपए की स्वीकृति की गई है और धना अभाव के कारण काम पूरा नहीं कराया जा सका जब खंड विकास अधिकारी मवई मोनिका पाठक से संपर्क किया गया तो उन्होंने बताया कि मैं इस समय मीटिंग में हूं मैं कुछ नहीं बता सकती इसी प्रकार ग्राम पंचायत कोटिया का गौशाला निर्माणाधीन का कार्य अधूरा है कोटिया ग्राम पंचायत जखवा के पास स्थित गाटा संख्या 520 चारागाह के अभिलेखों में अंकित है जो आज तक काम पूरा नहीं किया गया गौशाला का निर्माणधीन कार्य मात्र तीन तरफ से खाई बंधी हुई है और जब खंड विकास अधिकारी रामविलास राम से संपर्क किया गया तो उन्होंने बताया धना भाव के कारण गौशाला का निर्माण कार्य नहीं हो पा रहा है इस संबंध में प्रधान महोदया श्रीमती नीलम सिंह के पुत्र प्रधान प्रतिनिधि उत्तम सिंह ने बताया जितने काम का एस्टीमेट बनाया गया है उतना मैंने काम पूर्ण कराया है और जब पैसा आवंटित हो जाएगा तो मैं उसको तत्काल करवा दूंगा और इस संबंध में जब जेई जुबेर अहमद से संपर्क किया गया तो उनका फोन नहीं उठा और ग्राम पंचायत अधिकारी संतोष कुमार यादव से संपर्क किया गया तो उनका भी फोन नहीं उठा सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना को फलाप करने में खंड विकास अधिकारी ग्राम पंचायत अधिकारी का सबसे बड़ा योगदान है जो आज तक काम को पूरा नहीं कराया जा रहा है जहां सरकार किसान की फसलों को आवारा पशुओं से बचाने हेतु गौशाला निर्माण के लिए धन की स्वीकृति कर दी गयी है फिर भी निर्माण कार्य अधूरा ही है किसानों द्वारा कई बार शिकायत करने के बाद जिले के प्रशासनिक अधिकारी गौशाला निर्माण कार्य को देखने तक नहीं आये यह ग्राम वासियों का कहना है कैसे बचेगी फसल आवारा पशुओं से यह दोनों विकास खंड का जीता जागता उदाहरण है।

Related posts

बैसवारा ग्रामोत्थान समिति के द्वारा चलाया गया सड़क सुरक्षा अभियान

VT News

कुमारगंज: आखिर एसएसपी के ट्रांसफर आदेश को कब मानेगा दरोगा

Vt News

सरदार बल्लभ भाई पटेल जी की प्रतिमा लगवाने हेतु सांसद जी से कि गई मांग -वैचारिक शिक्षक संघ

Vt News