VT News India
Varanasi

बिजली बिल और निजी स्कूलों में फीस माफ़ कराने के लिए अपना दल करेगा आंदोलन : उमेश मौर्या

वाराणसी। वैश्विक कोरोनावायरस काल में बंद पड़े निजी स्कूलों में बच्चों के फीस को माफ करने और बिजली बिल का भुगतान नहीं करने की मांग को लेकर शीघ्र ही अपना दल बड़ा आंदोलन करने के मूड में है। उक्त बातें मंगलवार को अपना दल के जिलाध्यक्ष उमेश चंद्र मौर्य ने एक अनौपचारिक बातचीत में कैंट थाना क्षेत्र के मीरापुर बसहीं (गांधी चबूतरा के समीप) स्थित अपना दल के जिला कार्यालय पर मीडियाकर्मियों को बताया। उन्होंने कहा कि जब वैश्विक महामारी बीमारी कोरोना के कारण स्कूल में पढ़ाई हुई ही नहीं तो ऐसे में बच्चों से फीस लेने का कोई मतलब नहीं बनता है, वहीं दूसरी तरफ कोरोना के कारण इस भीषण महंगाई में हर व्यक्ति, हर परिवार दाने दाने खाने के लिए मोहताज था तो ऐसी स्थिति में भला व बिजली का बिल कैसे और कहाँ से भर पाएगा। इस विषम परिस्थितियों में योगी सरकार से पुरजोर मांग की जाएगी कि वह यथाशीघ्र निजी स्कूल के बच्चों का पूरी फीस और लगभग सात महीने के बिजली बिल के भुगतान को मानवता के आधार पर माफ़ करें। यदि यथाशीघ्र ऐसा सरकार नही करती है तो लोग मजबूरन आत्महत्या के साथ ही अप्रिय कार्य करने के लिए भी विवश हो सकते है, जिसकी सारी जिम्मेदारी प्रदेश सरकार की होगी। अभी लाइलाज कोरोना बीमारी से उबरने में, अपने और परिवार का पेट किसी तरह भरने की जुगत में आम लोग किसी तरह से लगे हुए है, बावजूद इसके वह परेशान हाल में बने हुए है, ऐसे में आसानी से यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि वह स्कूलों की फीस और बिजली का बिल भला कहां से और कैसे दे सकता है। आलम यह है कि शायद ही कोई ऐसा परिवार व उसका रिश्तेदार बचा हो जिसके यहां बीमार व्यक्ति न हो। सबकी आर्थिक स्थिति पूरी तरह से चरमरा गई है। मामला यह है कि पहले वह अपनो का इलाज कराकर उनकी जान बचाए की स्कूलों का फीस और बिजली बिल का भुगतान करें। एक खास बात उन्होंने यह भी बताया कि अधिकांश सामान्य परिवार ऐसे है जिनके ऊपर इस लाकडाउन मे काम- काज, रोजी-रोटी का जुगाड़ छीन जाने के कारण काफी कर्ज हो गया है। कितने परिवार ऐसे भी है जो रोजगार चले जाने के कारण गरीबी, बीमारी, भुखमरी के कारण बिल्कुल कंगाल, कर्जदार हो गए है। पैसे- पैसे के लिये मोहताज हो गए है। सरकार (राजा) का यह भी नैतिक दायित्व बनता हैं कि ऐसे परिवार (अपनी प्रजा) को चिन्हित कर उनकी प्रत्येक समस्याओं का भी समाधान युद्ध स्तर पर अविलम्ब करें, ताकि उनके जान-माल की रक्षा हो सके।

Related posts

जैतपुरा पुलिस द्वारा फर्जी ट्रेजरी चालान बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश

Vt News

नए भारत के शिल्पी देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दीर्घायु होने के लिए उनके जन्मदिन पर दिव्यांगों से मांगा आशीर्वाद

Vt News

पानी की किल्लत को लेकर महिलाओं ने किया प्रदर्शन

Vt News