VT News India
Varanasi

ब्लॉक में ओवर ऑल क्वालिटी सुधार हो रहा है, इससे जनांदोलन का रूप देकर स्थायीत्व में बदला जाएगा

वाराणसी। नीति आयोग,भारत सरकार के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत की अध्यक्षता में मंगलवार को भ्रमण पर आयी टीम द्वारा विकास खण्ड सेवापुरी के सभाकक्ष में जिले के विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक की गई। पूर्व भ्रमण के दौरान संतृप्तीकरण हेतु दिये गये निर्देशों के अनुपालन एवं विभागीय कार्यों के प्रगति का संबंधित विभागीय अधिकारियों से विस्तृत जानकारी ली गयी।

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा द्वारा सेवापुरी विकास अभियान के अन्तर्गत विभागवार कराये गये कार्यों की प्रगति का पीपीटी के माध्यम से प्रस्तुतीकरण करते हुए नीति आयोग की टीम को विस्तृत जानकारी दी। माइक्रोसेव संस्था द्वारा जिला प्रशासन के साथ मिलकर टेक्निकल सपोर्ट के द्वारा सभी विभागों की योजनाओं के अंतर्गत कराये गये कार्यों का विवरण प्रस्तुत किया। ततपशचात सेकेण्ड सेशन ब्रेक आउट सेशन के अन्तर्गत नीति आयोग की टीम में आये विभागीय अधिकारियों/संयुक्त सचिवों द्वारा विभिन्न ग्रुप में विभाजित कर जनपद के अधिकारियों के साथ ग्रुप डिस्कशन कर योजनाओं के सफल क्रियान्वयन के लिए रणनीति बनाने की कार्रवाई की गयी। इसके पश्चात् सभी विभागों के डिस्कशन करके तैयार की गयी रणनीति पर आयोग की टीम के सदस्यों द्वारा इसे विचार विमर्श करके अंतिम रुप दिया जायेगा। जिसमें शिक्षा, श्रम एवं रोजगार, पेयजल एवं स्वच्छता, कृषि एवं किसान कल्याण, पशुपालन व डेयरी, बैंकिंग सेवा, मत्स्य विकास, टेलीकम्युनिकेशन,एमएसएमई, ग्राम्य विकास, स्वास्थ्य, महिला बाल कल्याण आदि के अलग-अलग ग्रुप में डिस्कशन हुआ। सेकेण्ड सेशन ब्रेक आउट सेशन के अन्तर्गत नीति आयोग की टीम में आये विभागीय अधिकारियों/संयुक्त सचिवों द्वारा विभाग के जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ कार्यों के सम्बंध में डिश्कशन किया गया और योजनाओं के सफल क्रियान्वयन के लिए रणनीति बनाने की कार्रवाई की गयी। इसके पश्चात् सभी विभागों के संयुक्त सचिवों द्वारा प्रत्येक बिन्दुओं पर विवरण प्रस्तुत किया गया, जो उन्होंने डिस्कशन करके कार्ययोजना तैयार की। नीति आयोग व केंद्र सरकार के अधिकारियों द्वारा जिला स्तर के अधिकारियों के साथ चर्चा कर तथा कार्यों का पर्यवेक्षण कर एक- एक विभाग का प्रेजेंटेशन मुख्य कार्यकारी अधिकारी के समक्ष दिया गया। नीति आयोग व केंद्र सरकार के अधिकारियों ने सेवापुरी विकास खंड क्षेत्र में किए गए कार्यों को जमकर सराहा और इसे पूरे जिले व देश के अन्य भागों में भी लागू करने का सुझाव दिया।
इस अवसर पर नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने कमिश्नर दीपक अग्रवाल एवं जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा व पूरी टीम को बधाई देते हुए कहा कि उत्साह एवं दिल दिमाग के साथ यह काम किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इच्छा के तहत वाराणसी में एक ब्लॉक मॉडल के लिये चुना गया है। ताकि इसे पूरे देश में लागू कर सके। केंद्र, राज्य व जनपद के समन्वय व कन्वर्जन से अच्छा रिजल्ट आता है। क्षेत्र में वाईफाई स्पॉट बने और 100 प्रतिशत यूजर हो गये। यह सेवा को अवसर में बदले। इस विकास अभियान में 141 इंडिकेटर हैं। क्वालिटेटिव उपलब्धि बनाएं। प्राइमरी हेल्थ, न्यूट्रीशन, लर्निंग आउटकम पर फोकस किया जाए। उन्होंने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि लक्ष्य पूर्ति के बाद बिहेवियरक बदलाव आमजन में हो, ताकि बदलाव आगे स्थिरता में हो। सेल्फ हेल्प ग्रुप हर क्षेत्र में लाएं, इससे क्रांतिकारी बदलाव होगा। टेक्नोलॉजी के प्रयोग बेस्ट प्रैक्टिस देश की यहां लागू किया जाए। सेवापुरी विकास खंड क्षेत्र में बहुत अच्छा काम हुआ। बड़ा बदलाव आया है। यहां की जनता को लीडरशिप देंगे।
सचिव ग्राम्य विकास भारत सरकार ने कहां की विकास खंड सेवा पूरी क्षेत्र में नई-नई तरीकों से कार्य किया गया, जो सराहनीय है। उन्होंने विशेष जोर देते हुए कहा कि ग्राम पंचायत की विभिन्न समितियों को जागरूक करें। बीमा दावों में आवेदक की प्रतिपूर्ति दिलवाने पर जोर रहे, ताकि आमजन का बीमा के प्रति विश्वास बड़े और आवेदक लाभान्वित हो सके।गौरतलब है कि नीति आयोग की अगुवाई में देश का पहला सुदूरवर्ती ब्लॉक सेवापुरी में केंद्र व राज्य सरकार की समस्त योजनाओं से संतृप्त कर आदर्श मॉडल ब्लॉक बन रहा है। विभिन्न योजनाओं में 90 फ़ीसदी से अधिक लक्ष्य पूर्ति कर ली गयी है।ब्लॉक में ओवर ऑल क्वालिटी सुधार हो रहा है, इससे जनांदोलन का रूप देकर स्थायीत्व में बदला जाएगा।
इस अवसर पर सेवापुरी विकास अभियान के अंतर्गत ग्राम पंचायत प्रतियोगिता में 141 केपीआई में परफारमेंस अच्छा होने पर क्रमशः हरिभानपुर, कपसेठी एवं शंभूपुर सहित 3 ग्राम पंचायतों को प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय श्रेणी प्राप्त होने पर सम्मानित किया गया। ग्राम पंचायत हरिभानपुर के ग्राम प्रधान राजाराम यादव एवं ग्राम सचिव राजेश कुमार, कपसेठी के ग्राम प्रधान इंदुबाला सिंह एवं ग्राम सचिव कमलेश बहादुर गोंड तथा ग्राम पंचायत शंभूपुर के ग्राम प्रधान सूरज उपाध्याय एवं ग्राम सचिव महेंद्र प्रताप सिंह को प्रशस्ति पत्र देते हुए उन्हें बधाई दी गयी।
वहीं कृषि विभाग द्वारा कस्टम हायरिंग सेंटर योजना अंतर्गत ग्राम सभा होशिला निवासी शालिग्राम मिश्रा को आज नीति आयोग के चेयरमैन के हाथों ट्रैक्टर की चाबी देकर कृषक को सम्मानित किया गया। गौरतलब है कि इस योजना अंतर्गत कृषको को 40 प्रतिशत अनुदान पर बड़े यंत्र दिए जाते हैं। इस योजना में लागत 12 से 20 लाख रुपये तक है। सबमिशन ऑन एग्रीकल्चर मैकेनाइजेशन (एसएमएएम) के अंतर्गत रोटावेटर पर लागत का 50 प्रतिशत या अधिकतम 42 हजार रुपये का अनुदान दिया जाता है। ग्रामसभा गजापुर निवासी बृजराज वर्मा तथा ग्राम सभा रसूलहा निवासी विकास कुमार को नीति आयोग के चेयरमैन द्वारा दिया गया। इसी योजना अंतर्गत बैटरी चालित पावर स्प्रेयर पर लागत का 50 प्रतिशत या अधिकतम 15 सौ रुपये अनुदान दिया जाता है। जिसके अंतर्गत आज सत्येंद्र कुमार एवं अमरजीत यादव को प्रदान किया गया। एनएमएसए योजना अंतर्गत भी 5 किसानों को मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरित किया गया।

Related posts

चाचा ने 12 वर्षीया भतीजी को ही अपनी हवस का शिकार बनाया

VT News

वाहन की चपेट आने से दीपक विश्वकर्मा की मौके पर ही मौत

VT News

क्वांटिटी, क्वालिटी सेवा सर्विस व रोजगार से बढ़ेगा जनपद का जीडीपी :दीपक अग्रवाल

Vt News