VT News India
National

देश में अब ड्रोन से हथियारों की खेप पहुंचा रहा पाकिस्तान, सुरक्षाबलों के लिए बनी बड़ी चुनौती

सीमा पार पाकिस्तान से अब देश में अशांति फैलाने के लिए सिर्फ आतंकियों की घुसपैठ ही नहीं की जा रही है बल्कि ड्रोन के जरिए हथियारों की खेप भेजी जा रही है। सुरक्षाबलों के लिए आतंकियों के खिलाफ अभियान में यह सबसे बड़ी चुनौती बनकर सामने आया है। जम्मू कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने शनिवार को मीडिया से बात करते हुए कहा कि पाकिस्तान जम्मू कश्मीर में ड्रोन से हथियारों को पहुंचाकर अशांति फैलाने की कोशिश कर रहा है।

दिलबाग सिंह ने कहा, पाकिस्तान आतंकियों की भी घुसपैठ कराने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने आगे कहा कि ड्रोन के जरिए हथियारों की खेप पहुंचाना चुनौतीपूर्ण है, लेकिन इस रोकने में सफल रहे हैं और कुछ सफलता भी मिली है।

जम्मू कश्मीर के डीजीपी ने आगे कहा- “जम्मू कश्मीर में आतंकी संगठनों को सभी संभव मदद पहुंचाकर पाकिस्तान आतंकवाद को घाटी में बढ़ावा दे रहा है। हम ड्रग्स तस्करों से कड़ाई से निपटेंगे। पाकिस्तान टेरर फंडिंग के लिए नार्को टेररिज्म का इस्तेमाल कर रहा है।

इधर, शनिवार को जम्मू-कश्मीर पुलिस ने सुरक्षा एजेंसियों की मदद से एक बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए राजौरी जिले से हथियारों से लैस लश्कर-ए-तैयबा के तीन आतंकवादियों को गिरफ्तार कर लिया। जम्मू क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक मुकेश सिंह ने यूनीवार्ता को बताया कि राजौरी जिले में पुलिस की टीमों ने शनिवार सुबह भारी संख्या में हथियारों से लैस 3 आतंकवादियों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार किए गए आतंकवादियों का संबंध कुख्यात आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा से है। यह सभी आतंकवादी कश्मीर क्षेत्र से आ रहे थे। इस मामले में पुलिस जांच कर रही है।

पुलिस के सूत्रों के मुताबिक आतंकवादियों को राजौरी जिले के गुर्दन गांव से गिरफ्तार किया गया और ये दक्षिण कश्मीर के शोपियां और पुलवामा जिले के रहने वाले हैं। पुलिस सूत्रों के मुताबिक गिरफ्तार आतंकवादियों के पास से दो एके-56 राइफल, छह एके मैगजीन और उसकी 180 राउंड गोलियां, दो चीनी पिस्तौल, तीन अन्य पिस्तौल और उसकी 30 राउंड गोलियां, 4 ग्रेनेड, 2 पैकेट और एक लाख रुपये नकदी भी बरामद की गई है।

गिरफ्तार किए गए आतंकवादियों की पहचान पुलवामा के राहिल बशीर और आमिर जान उर्फ हमज़ा जबकि शोपियां के हफीज युनूस वानी के रूप में की गई है।  पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह स्थिति का जायजा लेने के लिए राजौरी पहुंचे।

Related posts

एलएसी के बाद अब आर्मी चीफ का एसओसी दौरा, कश्मीर में सैनिकों की तैयारियों की ले रहे हैं जायजा

Vt News

वायु वीर राफेल Air force में शामिल, राजनाथ सिंह बाेले- यह दुश्‍मन के लिए चेतावनी

Vt News

उद्धव ठाकरे ने पीएम मोदी को कोरोना महामारी के उपायों के बारे में लिखा

VT News