VT News India
Crime Varanasi

सो रहे दो किशोर पर जानलेवा हमला,एक की मौत

वाराणसी।चौबेपुर थानान्तर्गत मुरीदपुर गाँव मे बीते शुक्रवार की देर रात घर मे सो रहे दो किशोरों पर धारदार हथियार से हमला कर दोनो किशोरों को गम्भीर रूप से घायल कर दिया।दो किशोर सगे भाई हैं।इलाज के दौरान बड़े भाई की मौत हो गयी जबकि छोटा भाई बीएचयू के ट्रामा सेंटर मे जिंदगी व मौत से जूझ रहा है।घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस कप्तान सहित अन्य पुलिस अधिकारियों ने घटनास्थल का निरीक्षण किया।

जानकारी के अनुसार मुरीदपुर गांव निवासी जयप्रकाश चौबे के दो पुत्र अमन उर्फ सूरज चौबे(17) व बादल चौबे (14) शुक्रवार की रात घर के अंदर सो रहे थे। रात में हमलावर मकान के पीछे से दीवाल फांदकर घर के अंदर सीढ़ी के रास्ते घर मे प्रवेश कर आंगन के बाद कमरे में घुस गये।कमरे मे सो रहे अमन उर्फ सूरज चौबे पर हमलावरों ने धारदार हथियार से हमला कर दिया और अमन के गले व शरीर के कई भागों में वारकर घायल कर दिया।शोरगुल व चीख सुनकर छोटा भाई बादल जाग गया ,उसने भी शोर मचाना शुरू किया।इस दौरान हमलावरों ने बादल पर भी वार करना शुरू कर दिया।दोनो किशोरों को गम्भीर रूप से जख्मी कर हमलावर सीढ़ी के रास्ते दीवाल फांदकर मकान के पीछे कूद कर बांस की कोठी की ओर से भाग निकले।
*बरामदे मे सो रहे दादा व दादी को नही लगी भनक-
जिस कमरे मे घटना हुई उसी कमरे के ठीक बगल बरामदे मे सोये दोनो भाइयों के दादा राजकिशोर चौबे व दादी सो रही थी लेकिन उन्हें घटना की भनक तक नही लग सकी।राजकिशोर लगभग पांच बजे भोर में उठकर जब दोनों भाइयों को जगाने पहुंचे तो दोनों को खून से लथपथ देखकर सन्न रह गये।

परिजनों ने पहुँचाया अस्पताल

आवाज देने पर पहुंचे परिजन व आस पास के ग्रामीणों ने आनन फानन मे दोनो किशोरों को शहर के एक निजी अस्पताल पहुँचाया लेकिन वहां से जवाब मिलने पर दोनों को बीएचयू के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया।

बड़े भाई की मौत छोटा जिंदगी व मौत के वीच कर रहा संघर्ष

बीएचयू ट्रामा सेंटर पहुँचने के कुछ देर बाद ही अमन उर्फ सूरज चौबे की मौत हो गयी। घायल बादल चौबे ट्रामा सेंटर में मौत से संघर्ष कर रहा है। घटना की जानकारी मिलते ही थानाध्यक्ष संजय त्रिपाठी ने मौके पर पहुंचकर डॉग स्क्वायड टीम व कप्तान को सूचना दी। सूचना मिलते ही एसएसपी भी मौके पर पहुंचे और डॉग स्क्वायड टीम में शामिल कुत्ता घटना स्थल से कुछ दूर मकान के पीछे बांस की कोठी तक जाकर रुक गया। कई जगह बांस की कोठी व दीवाल पर खून लगा था।

अमन के परिजनों ने बताया कि गांव के ही एक कुम्हार परिवार के अंकित से किशोरों का कुछ दिनों पूर्व विवाद हुआ था जिस पर किशोरों ने अंकित को मारा पीटा था। उसी कड़ी को देखते हुए पुलिस ने जानकारी के बाद अंकित को हिरासत में लिया है।
मृतक अमन के पिता मुंबई में में टेम्पो चलाते थे। इस समय घर पर कुछ दिनों से थे। तीन दिनों पूर्व आजमगढ़ प्राइवेट काम करने गए थे। घर पर महिलाएं व अमन के दादा राजकिशोर चौबे व दादी के साथ ही किशोरों की चाची घर मे मौजूद थी।

शक की सुई चाचा व चाची पर!

पुलिस घटना को लेकर भले ही कुम्हार परिवार के लड़के पर शक कर रही हो और घटना के पीछे चुनावी रंजिश की सम्भावना तलाश रही हो लेकिन मौके पर मौजूद ग्रामीणों अलग ही कहानी बता रहे थे।पुलिस घटना स्थल से किसी धारदार हथियार बरामद होने से इनकार कर रही है और घटना की जानकारी देने की वजाय अभी जाँच चलने की बात कर रही हो लेकिन गाँव के कुछ प्रत्यक्षदर्शियों का कहना ही घटना स्थल पर पहुँचते ही पुलिस ने बाँस की कोठी से धारदार कुल्हाड़ी व चाकू बरामद किया है।मौके पर उपस्थित ग्रामीण दबी जुबान से घटना का लेकर मृतक किशोरों के चाचा व चाची पर शक कर रहे हैं हलांकि अभी यह जाँच का विषय है।

Posted by: Shivam Kumar

Related posts

पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट वाराणसी की अदालत में व्‍हील चेयर पर पेश

VT News

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस जयंती एवं गायत्री तीर्थ शांतिकुंज हरिद्वार के ५०वीं वर्षगांठ स्वर्ण जयंती पर रक्तदान महायज्ञ कार्यक्रम का आयोजन

VT News

बालू माफियाओं और पुलिस गठजोड़ से बालू लदी ट्रैक्टर फराटे भर रहे है मालवीय पुल पर

VT News